लता मंगेशकर से पहले मजरुह सुल्तानपुरी चखते थे उनका खाना, जानिए क्यों?

लता मंगेशकर के पिता दीनानाथ मंगेशकर नहीं चाहते थे कि उनके पिता दीनानाथ मंगेशकर (Dinanath Mangeshkar) नहीं चाहते थे कि बेटी फिल्मों में गाना गाए

लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) ने अपनी शानदार आवाज से लंबे समय तक दर्शकों के दिलों को जीता है

उनकी खूबसूरत आवाज के दुनिया भर में दीवाने हैं

लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar Passes Away) ने बॉलीवुड की कई फिल्मों में अपनी आवाज दी है उन्होंने जिस-जिस गानें को गाया है वो सुपरहिट भी साबित हुआ है.

बता दें, लता मंगेशकर के लिए जो खाना बनता था, उसे पहले वह नहीं खाती थीं

सबसे पहले मजरुह सुल्तानपुरी इसे चखते थे

दरअसल, लता जी जब 33 साल की थीं, तब उन्हें मारने की कोशिश हुई. किसी ने उनके खाने में जहर मिला दिया था.

लता मंगेशकर के बारे में और ज्यादा पढ़ने के लिए निचे दिए गए बटन पर ओके करे। धन्यवाद