शुगर लेवल को रखना है कंट्रोल, डाइट में शामिल करें ये 7+ बिना स्टार्च वाली सब्जियां

विशेषज्ञों का मानना है कि डायबिटीज से ग्रस्त लोगों की डाइट में नॉन स्टार्च वाले फूड्स का शामिल रहना ही बेस्ट होता है. आप इन 5 नॉन स्टार्च फूड्स को डाइट में शामिल कर सकते हैं.

गाजर: सर्दी में आसानी से मिलने वाली गाजर डायबिटीज के रोगियों के लिए अच्छा मानी जाती है. डॉक्टरों का मानना है कि इन रोगियों को गाजर पकाने के बजाय कच्ची खानी चाहिए. ज्यादा फाइबर होने की वजह से ये खून में शुगर को धीरे-धीरे रिलीज करती है.

पत्ता गोभी: इसमें विटामिन और एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे तत्व काफी मात्रा में मौजूद होते हैं. डॉक्टर सलाह देते हैं कि डायबिटीज के रोगियों को हफ्ते में एक बार पत्ता गोभी का सेवन करना चाहिए.

बैंगन: ये भी एक बिना स्टार्च वाली सब्जी है और इसकी खासियत है कि इसमें कोलेस्ट्रॉल भी नहीं होता है. कहते हैं कि डायबिटीज के मरीजों के लिए ये सब्जी किसी रामबाण से कम नहीं होती है.

भिंडी: फाइबर से भरपूर भिंडी को पचाना काफी आसान है और यह शुगर लेवल को कंट्रोल करने में भी कारगर मानी जाती है. कहते हैं कि इसके तत्व इंसुलिन में इजाफा करते हैं.

खीरा: फाइबर की बात हो, तो खीरे का ख्याल भी मन में आता है. पानी की कमी पूरी करने वाले खीरे से शुगर को नियंत्रित किया जा सकता है.

शकरकंद: इसमें आयरन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन और फाइबर की अच्छी-खासी मात्रा मौजूद होती है, इसलिए डायबिटीज के रोगी शकरकंद को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं।

फ्रोजन मटर: मधुमेह के रोगी फ्रोजन मटर का सेवन कर सकते हैं। क्योंकि इसमें पोटेशियम, आयरन और फाइबर की अच्छी-खासी मात्रा मौजूद होती है। फ्रोजन मटर के सेवन से ब्लड शुगर लेवल काबू में रहता है।

अगर आप हेल्थ से रिलेटेड कोई भी जानकारी पढ़ना चाहते है तो हमें गूगल न्यूज़ पर फॉलो करे। धन्यवाद